Join with usResearch JournalPublish your ResearchResearch Database
Website Visits: Web Counters
Vol.4, Issue 2

Vol.4, Issue 2

SHODH SANCHAYAN

 

Vol.4, Issue.2, 15 July, 2013

ISSN  2249 – 9180 (Online)

Bilingual (Hindi & English)
Half Yearly

Print & Online

Dedicated to interdisciplinary Research of Humanities & Social Science

An Open Access INTERNATIONALLY INDEXED REFEREED RESEARCH JOURNAL and a complete Periodical dedicated to Humanities & Social Science Research.

मानविकी एवं समाज विज्ञान के मौलिक एवं अंतरानुशासनात्मक शोध पर  केन्द्रित (हिंदी और अंग्रेजी)

If you don't have Walkman Chanakya on your computer, you will see junk characters, wherever article Text would be in Hindi. For downloading Hindi Fonts, you may please click on

http://www.shodh.net/media/hindifont.zip

Save the fonts files CHANAKBI.PFB, CHANAKBI.PFM, CHANAKBX.PFB, CHANAKBX.PFM, CHANAKIX.PFB, CHANAKIX.PFM, CHANAKYA.PFB, CHANAKYA.PFM, CHANAKYB.PFB, CHANAKYB.PFM, CHANAKYI.PFB and CHANAKYI.PFM into c:\windows\fonts directory.

Once the font is added to your system, you can see the text in Hindi using any browser like Netscape (ver 3 and above), Internet explorer etc.

(हिन्दी शोध आलेखों को पढ़ने के लिए इस वेब ठिकाने के Quick Links मेनू से हिन्दी फॉण्ट डाउनलोड करें और उसे अनजिप (unzip) कर अपने कंप्यूटर के कण्ट्रोल पैनल के फॉण्ट फोल्डर में चस्पा (Paste) करें.)

Index/अनुक्रम

 

शोध के नए माहौल की नैतिकता

A Case Study

The overall aim of the study is to examine faculty satisfaction in regard to the compensation paid against the work done by them. Though a lot of studies have been conducted in the West, little evidence of comprehensive research has been found in Indian context. The study is unique in itself as it surveys among Indian faculty members. The investigation of the study is empirical, and is based on quantitative data. The present paper aims to study compensation satisfaction amongst faculty members at three private management institutes in the state of Punjab, India.

शोध आलेख

हिन्दी भाषा के शिक्षण-अधिगम विधिओं में प्रत्यय संरचनावादी उपागमों का प्रयोग अधुनातन है। प्रस्तुत शोध आलेख भाषा शिक्षण के पारंपरिक विधि और प्रत्यय संरचनावादी उपागमों के प्रयोग का तुलनात्मक अध्ययन प्रस्तुत करता है।

शोध आलेख

प्रेम और सौंदर्य मानव मन को सदा से छूता रहा है। आधुनिक हिन्दी कवियों में अग्रणी कवि शमशेर की रचना प्रवृत्तियों में प्रेम और सोंदर्य के स्वरुप को तलाशने की प्रेरणा का प्रतिफलन है प्रस्तुत शोध आलेख।

शोध आलेख

मनुष्य का भौतिक अस्तित्व आर्थिक संक्रियाओं पर निर्भर है। आज, जबकि आत्मनिर्भरता प्रत्येक व्यक्ति के जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक है, आजीविका से सम्बंधित प्रश्न महत्वपूर्ण हो जाता है। यह शोध आलेख चित्रकला में आजीविका की सम्बहवान और उनकी दशा-दिशा पर सम्यक विवेचन प्रस्तुत करता है।

A Case Study

The article on Jaunpur the Shiraz e Hind and Azaadaaree has been very well written and it throws light on the unique tradition of Maatam observed by Shia Muslims on the martyrdom of Hajrat Husain and his companions. The battle of qarbla was the turning point in the history of Islam. In a treachery the Sons of Hajrat Ali, Hasan and  Husain had been trapped and killed by Yazid with their 72 companions in Qarbla.

The article depicts the system and tradition of Azaadaaree in Jaunpur and the magnificent architecture of Sharqi period. Though today it is a small city near Varanasi but in Sharqi period it was one of the important seat of power in northern India.

शोध आलेख

साहित्य जगत में अपनी जगह बनाने के लिए स्त्री लेखन को काफी संघर्ष करना पड़ा। सत्यवती मल्लिक उस समय की लेखिका हैं जब महिला लेखिकाओं की उपस्थिति न्यून थी। प्रस्तुत शोध सत्यवती मल्लिक के साहित्यिक संघर्ष और अवदान को प्रस्तुत करते हुए उन्हें साहित्य जगत में विस्मरण से बहार लेन की छोटी कोशिश है।

Guild was industrial and mercantile organization of ancient India. In this paper, the researcher attempts to draw out a picture of source, origin, periodical development and decaying condition of guilds in India.

शोध आलेख

मनुष्यता के समर्थन में सच्ची अवधारणा वह होती है जो एक सच्चे हृदय में स्पंदित होती है। मानवाधिकार की संकल्पना मनुष्यमात्र के हितार्थ एक विधिसम्मत अवधारणा है। निराला जैसे एक सृजनशील रचनाकार की व्यक्तिगत और रचनागत आधार पर निर्मित अवधारणा की परीक्षा मानवाधिकार के आलोक में की गयी है जिसके आधार पर यह निष्पत्ति हो सके कि मानवाधिकार की यह अवधारणा न केवल विधिसम्मत है अपितु मानवमात्र के हितार्थ मनीषासम्मत भी। प्रस्तुत लेख में शोधकर्ता ने इसी मंतव्य से निराला साहित्य को परखने का प्रयत्न किया है।

Bhagavad Gita is one of the most popular book of Hindu : Holy Gita is considered to be the greatest contributions of India to the World. In the present research paper, the researcher has attempted to find the effect of Bhagavad Gita in the present scenario of education.

शोध आलेख

इतिहास में जय-पराजय चलती रहेगी और मानवता अक्षुण्ण रहेगी। मनुष्य की जय-यात्रा में ऐसे सोपान निरंतर जुड़ते रहते हैं जो मनुष्यता को शाश्वत बनाते हैं। संभवत: इसीलिए चेतना की विकासवादी व्याख्या में उन तत्वों को हम सम्मिलित करते चलते हैं जिसके प्रति रचनात्मक और स्वीकारक्षम होना आवश्यक है। इस आलेख में संस्कृति के उन तत्वों के अन्वेषण की आकांक्षा है जो पुरातन से लेकर समकालीन प्रासंगिकता को एक सूत्र में अन्युस्युत करते हैं।

Fertility and mortality play important role in demography of society This study reveals fertility and mortality condition in religious minorities of Kanpur city, which is based on sample survey conducted by authors in 2009.

शोध आलेख

महात्मा गाँधी के व्यक्तित्व और विचारों का प्रभाव राजनीति से इतर अन्य क्षेत्रों पर भी पड़ा। सिनेमा इससे अछुता हो, यह असंभव है। यह शोध अध्ययन भारतीय सिनेमा के सेल्युलाइड पर अंकित उनके प्रभाव को अन्वेषित करने का प्रयत्न है।

Role efficacy is potential effectiveness of an individual occupying a particular role in an organization. In this study the researchers have compared the level of role efficacy among public, private and deemed universities Higher Education.

बौद्ध दर्शन एक ओर जहाँ अध्यात्मिक उन्नति का सम्यक समाधान प्रस्तुत करता है वहीँ उसकी सामाजिक-धार्मिक-राजनैतिक संस्थाएं लोकतान्त्रिक व्यवस्था एवं कौशलपूर्ण प्रबंधन का आदर्श प्रस्तुत करती हैं। छः शताब्दी ईसापूर्व की यह व्यवस्था न केवल पशिमी समाज के लोकतान्त्रिक व्यवस्था का जनक होने का दंभ तोडती है बल्कि आज कि समाज व्यवस्था को सच्चा आइना दिखाती है।

Present paper is trying to make total concentration on the collection of all scientific and cultural material related to Roopkund mystery. Authors used all the literature material in their original form and divided it into three sections like, religious, historic and scientific according to the nature of research findings. Previous scientific research findings and cultural beliefs are compared with each other and discussed of these hypothesis and explore a genuine and acceptable story of Roopkund victims. At the end of the paper the author gives conclusion on the theories and future work scope for the researches.

कवि विद्यापति की पहचान मुख्यतः एक उत्कृष्ट गीतकार के रूप में रही है। उनकी रचनाएँ हिन्दी साहित्य की धरोहर है। हिन्दी लोकभाषा है। आदिकालीन हिन्दी रचनाकार प्रायः लोक कवि हैं। इनमें विद्यापति ऐसे कवि हैं जिनमें जितना मार्मिक लोक है उतना ही प्रगल्भ शास्त्र। प्रस्तुत शोधपत्र कवि विद्यापति के व्यक्तित्व के इन दो छोरों को विश्लेषित करने का प्रयास है।

In the world of banking, the development of information technology has an enormous effect on development of more flexible payments methods and more-user friendly banking services. Internet banking involves, consumer using the Internet to access their bank account and to undertake banking transactions. In this study Factor and Regression analyses were used to know trend of internet use and factors affecting e-banking.

हिन्दी के प्रख्यात लेखक सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन 'अज्ञेय' के ऊपर सदैव व्यक्तिवादी लेखक होने का आरोप लगता रहा है। उनके वैचारिक दर्शन को अनेक आलोचकों द्वारा समाजविरोधी सिद्ध किया जाता रहा है। प्रस्तुत शोध आलेख अज्ञेय के वैचारिक दर्शन की सम्यक समीक्षा प्रस्तुत करता है।

Empowerment of tribal women is an important division of the concept of women empowerment. In this study the researcher discusses various aspects associated with human rights and empowerment of tribal women.

व्यावसायिक सफलता के प्रमुख दो कारक हैं - स्वभावानुकूल व्यवसाय और व्यवसाय के अनुकूल वातावरण। उचित मार्गदर्शन के आभाव में व्यवसाय का गलत चयन छात्र के जीवन की सफलता को प्रभावित करता है। यह शोध अध्ययन विद्यार्थिओं की व्यावसायिक आकांक्षा पर परिवार और परामर्श के प्रभावों का अध्ययन प्रस्तुत करता है।

In This paper the researcher attempts to analyze the character of Cleopatra as presented by William Shakespeare in his play Antony and Cleopatra and as presented in historical documents. In the process, this paper tries and examines Shakespeare's attitude towards Cleopatra and look into the socio-political conditions of the time which might have influenced his imagination in creating Cleopatra's character.

महाकाव्य की परंपरा पाश्चात्य और पौरस्त्य साहित्य में बहुत प्राचीन काल से चली आया रही है। प्रस्तुत शोध आलेख महाकाव्य के लक्षणों का तुलनात्मक अध्ययन प्रस्तुत करता है।

The values accepted by teacher influence the choice and selection of values made by students. In this paper, the researcher has made a comparative study of the attitude of made female teachers of secondary schools towards personal values.

गोपालदास 'नीरज' हिन्दी गीत परंपरा के महत्वपूर्ण हस्ताक्षर हैं। अध्यापन और गीत रचना उनकी आजीविका और व्यक्तित्व के दो महत्वपूर्ण  छोर हैं। एक कवि से अलग उनकी वृत्ति और व्यक्तित्व को मूल्यांकित करने का प्रयास है यह शोधपूर्ण आलेख।

संस्कृत साहित्य की परंपरा अत्यंत प्राचीन है। संस्कृत साहित्य इस बात का साक्षी है कि कुछ दृष्टिओं से भारतीय समाज में नारी का स्थान अत्यंत गौरवपूर्ण रहा है। भारत का मध्यकालीन और निवर्तमान समाज नारी की स्थिति को लेकर अनेक प्रश्नों से घिरा है। आधुनिक संस्कृत साहित्य ने नारी के किस स्वरुप की अभिव्यक्ति की है, प्रस्तुत शोध आलेख इसी पर्यालोचन की परिणति है।

समीक्षा

वृहद शोध परियोजना प्रतिवेदन प्रकाशन

वित्त पोषित - विश्वविद्यालय अनुदान आयोग , 2011-12

Display Num 
Powered by Phoca Download